डीमैट खाताधारक अपने खाते में रखी प्रतिभूतियों के माध्यम से आसानी से ऋण प्राप्त कर सकते हैं।

डीमैट अकाउंट - अर्थ, प्रकार, लाभ, डीमैट खाता ऑनलाइन कैसे खोलें

डीमैट खाता एक ऐसा खाता है जो निवेशकों को इलेक्ट्रॉनिक रूप में शेयरों या प्रतिभूतियों को रखने की अनुमति देता है। खरीदे गए शेयरों को डीमैट खाते में जमा किया जाता है और इसी तरह बिक्री के समय, प्रतिभूतियों को खाते से डेबिट किया जाता है। इस खाते का उपयोग शेयरों, ईटीएफ, म्यूचुअल फंड, बॉन्ड, सरकारी बॉन्ड, आदि जैसे निवेश का एक विस्तृत विकल्प रखने के लिए किया जाता है।

इलेक्ट्रॉनिक ट्रेडों का न्यायिक उपयोग करने के लिए 1996 में शेयरों के डीमैटरियलाइजेशन की प्रक्रिया शुरू की गई थी। डीमैटरियलाइज्ड या डीमैट खाता इलेक्ट्रॉनिक मोड में शेयरों को रखने में मदद करता है और लोगों को सुरक्षित तरीके से बिक्री के मामले में शेयरों को खरीदने और आय एकत्र करने में मदद करता है।

प्रत्यावर्तनीय डीमैट खाता एक प्रकार का डीमैट खाता है जो उन निवेशकों या व्यापारियों के लिए उपयुक्त है जो अनिवासी भारतीय (NRI) हैं। इस प्रकार का डीमैट खाता विदेशों में पूंजी स्थानांतरित करने की अनुमति देता है। हालांकि, गैर-निवासी एक्सटर्नल (NRE) बैक खाते की आवश्यकता है।

गैर-प्रत्यावर्तनीय डीमैट खाता एक प्रकार का डीमैट खाता है जो फिर से अनिवासी भारतीयों (NRI) के लिए उपयुक्त है, लेकिन विदेशों में धन का हस्तांतरण नहीं हो सकता है। इस प्रकार के डीमैट खाते के साथ संबद्ध होने के लिए एक अनिवासी आयुध (NRO) बैंक खाते की आवश्यकता होती है।

डीमैट खाते के कई लाभ हैं जो नीचे उल्लिखित हैं:

1. सुगमता

डीमैट खाते नेट बैंकिंग के माध्यम से निवेश और लेनदेन के स्टेटमेंट की आसान पहुंच प्रदान करते हैं। डीमैट खाते के माध्यम से लेनदेन और निवेश का विवरण आसानी से ट्रैक किया जा सकता है।

ऑनलाइन डीमैट खाता कैसे खोलें?

डीमैट खाता खोलना, एक बहुत ही सरल और परेशानी रहित प्रक्रिया है। खाता खोलने के चरण नीचे दिए गए हैं:

1. डिपॉजिटरी पार्टिसिपेंट (DP) सेलेक्ट करें।

2. आवश्यक विवरण के साथ खाता खोलने का फॉर्म भरें और इसके साथ आवश्यक दस्तावेज जमा करें। डीमैट खाता खोलने के लिए पैन कार्ड अनिवार्य है।

3. फॉर्म जमा करने के बाद, नियमों और विनियमों की प्रतिलिपि, समझौते की शर्तें, शुल्क एसबीआई ट्रेडिंग खाता और डीमैट खाता खोलना जमाकर्ता प्रतिभागी द्वारा प्रदान किए जाएंगे।

4. इन-पर्सन सत्यापन भी अनिवार्य है और इसलिए, डीपी अधिकारी कर्मचारियों के एक सदस्य को खाता खोलने के रूप में प्रदान किए गए विवरण को सत्यापित करने के लिए व्यक्ति से संपर्क करना होगा।

5. सत्यापन के बाद, डीपी स्टाफ का सदस्य एक खाता संख्या या ग्राहक आईडी देगा। इन विवरणों को ऑनलाइन भी चेक किया जा सकता है।

6. डिमैट खाते के लिए एक वार्षिक रखरखाव शुल्क भी लिया जाता है जो खाता लेनदेन शुल्क को कवर करता है। ये शुल्क डीपी द्वारा निर्धारित संरचना के अनुसार लागू होते हैं।

डीमैट खाता कैसे खोलें?

ऑनलाइन डीमैट खाता खोलते समय आपके पास निम्नलिखित दस्तावेजों की सॉफ्ट कॉपी होनी चाहिए:

  • पहचान प्रमाण (पैन एसबीआई ट्रेडिंग खाता और डीमैट खाता खोलना कार्ड अनिवार्य)
  • पता प्रमाण (आधार, मतदाता पहचान पत्र, पासपोर्ट, आदि)
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • आय प्रमाण (नवीनतम छह महीने का बैंक स्टेटमेंट, नवीनतम आईटीआर (ITR) कॉपी, तीन महीने की वेतन पर्ची)

डीमैट खाता ऑफलाइन कैसे खोलें?

  • केवाईसी (KYC) फॉर्म डाउनलोड करें।
  • एक प्रिंटआउट लें और सभी विवरण भरें।
  • अगर आपको खाता खोलने का फॉर्म भरने में मदद चाहिए तो आप हमें (+91 8061575500, +91 8045490850) पर कॉल कर सकते हैं।
  • खाता खोलने के दस्तावेजों की एक स्व-सत्यापित प्रति संलग्न करें।
  • केवाईसी (KYC) फॉर्म पर हस्ताक्षर करें और हार्ड कॉपी अलाइस ब्लू कॉर्पोरेट कार्यालय के पते पर भेजें।
  • खाता खोलने का शुल्क: ₹ 0/-
  • एएमसी (AMC) शुल्क: ₹400/- प्रति वर्ष।

एक बार जब आप खाता खोल लेते हैं तो आप शेयर खरीद सकेंगे लेकिन शेयरों को बेचने के लिए आपको पावर ऑफ अटॉर्नी ( POA) नामक एक दस्तावेज जमा करना होगा।

यह क्या है? जानने के लिए पढ़ते रहिये…

खाता खोलने की प्रक्रिया के बाद क्या करे?

पावर ऑफ अटॉर्नी (POA) एक सीमित स्तर की अनुमति है जो आप हमें (ब्रोकर) डीमैट खाते से शेयर डेबिट करने के लिए देते हैं जब भी आप शेयर बेचते हैं।

यदि आपने POA जमा नहीं किया है, तो आप सीडीएसएल टीपिन मोड (CDSL TPIN Mode) का उपयोग करके शेयर बेच सकेंगे। इस मॉडल में प्रति दिन अधिकतम ₹1 करोड़ की बिक्री और लेनदेन का प्रतिबंध है।

यदि आपके पास ₹ 1 करोड़ से अधिक का पोर्टफोलियो है और आप एक दिन में अपनी होल्डिंग से ₹ 1 करोड़ से अधिक स्टॉक बेचना चाहते हैं, तो आपको हमें POA भेजना होगा।

आपका खाता सक्रिय होने पर आपको डाक द्वारा POA फॉर्म प्राप्त होगा या आप यहां पीओए (POA) फॉर्म पा सकते हैं ।

Vinayak Hagargi

Vinayak is Impressively Enthusiastic about Financial Markets, Research & Curating Layman-Friendly Content. He has been Successfully Contributing to the Financial Markets for over 2 years & has written over 100+ articles. He aims to continue sharing his knowledge to empower newbies with Relatable, & Easy to Understand Content.

शेयरों में निवेश शुरू करना चाहते हैं? जानिए कैसे खोलें डीमैट और ट्रेडिंग अकाउंट

photo2

डिजिटल फॉर्म भरें
पहले ब्रोकर की वेबसाइट पर जाएं. फिर अकाउंट खोलने का फॉर्म भरें. इसमें आपको नाम, पता, पैन और उस बैंक अकाउंट की डीटेल्‍स भरनी होंगी जिन्‍हें डीमैट और ट्रेडिंग अकाउंट से जोड़ना है. साथ ही सबसे उपयुक्‍त ब्रोकरेज प्‍लान को सेलेक्‍ट करने की जरूरत होती है.

डॉक्‍यूमेंट अपलोड करें
आधार, पैन, कैंसिल्‍ड चेक जैसे डॉक्‍यूमेंट की स्‍कैन कॉपी अपलोड करने की जरूरत पड़ती है. निवेशक की तस्‍वीर के साथ स्‍कैन किए हुए सिग्‍नेचर की भी जरूरत हो सकती है.

इन-पर्सन वेरिफिकेशन
इन-पर्सन वेरिफिकेशन ब्रोकर करते हैं. इसे डिजिटल कॉल या व्‍यक्ति की वीडियो रिकॉर्डिंग के माध्‍यम से किया जाता है. इसके लिए निवेशकों को स्‍क्रीन पर दिए जाने वाले निर्देशों का पालन करने के लिए कहा जाता है.

SBI मे DMAT ट्रेडिंग खाता कैसे खोले पूरी जानकारी

SBI कैप सिक्योरिटीज स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया की तरफ से चलाया जाता है। इसकी शुरवात २००६ से हुई SBI सिक्योरिटीज फुल टाइम ब्रोकर की श्रेणी मे आता है। फुल टाइम एसबीआई ट्रेडिंग खाता और डीमैट खाता खोलना सेवा देने और अच्छी ब्रांड के कारन SBI सिक्योरिटीज भारत मे विशसनिया स्टॉक ब्रोकर माना जाता है। SBI Cap के पुरे भारतभर मे ११४ जगहों पर शाखाये है। एसबीआई ट्रेडिंग खाता और डीमैट खाता खोलना अगर आप SBI के द्वारा शेयर बाजार मे निवेश करना चाहते है तो ये आर्टिकल पूरा पढ़े आपके सारे सवालो के जवाब आपको मिल जायेंगे।

SBI एसबीआई कैप सिक्योरिटीज के फायदे :

  • SBI इंटरनेट बैंकिंग सेवा के माध्यम आप डीमैट खता किसी भी समय आप कही भी हो इस्तेमाल कर सकते हो और ट्रेड कर सकते है।
  • SBI DMAT खाता सेवा १२०० से अधिक शाखावोमे संचालित कर सकते है।
  • SBI कस्टमर सर्विस २४ घंटे आपके मदत के लिए तत्पर रहती है।
  • ऑनलाइन DMAT स्टेटमेंट के द्वारा आप खाते का विवरण ,आपके सभी शेयर की जानकारी ,बेचे गए शेयर की जानकारी इस सभी की जानकारी देती है।
  • एसबीआई सिक्योरिटीज के DMAT खाते से आप आपके शेयर होल्डिंग पर लोन ले सकते है।
  • ३. इन १ डीमैट खाता जिसकी बजह से शेयर एसबीआई ट्रेडिंग खाता और डीमैट खाता खोलना खरदीने के लिए ट्रेडिंग खाते मे पैसे डालने की जरुरत नहीं पडती और न ही सेल करने के बाद निकलने की आप आपका सेविंग खाता भी डिमैट के लिए इस्तेमाल कर सकते है।
  • विभिन्न प्रकार के ट्रेडिंग विकल्प जैसे की :इक्विटी ,देररिवटीएस ,आईपीओ म्यूच्यूअल फंड्स ,मुद्रा ट्रेडिंग ,एनएफओ,ईटिफ ,
  • अनुभवी शेयर रिसर्च रिपोर्ट।
  • भरोसेमंद स्टॉक ब्रोकर।

SBI डीमैट खाता खोलने के शुल्क :

सौजन्य :SBI कैप सिक्योरिटीज

SBI मे डीमैट खाता खुलवाने पर आपको ८५० रुपये और १८ प्रतिशत जीएसटी १००० रुपये देने होंगे। और अगर आप आपका पुराण बैंक खाता लिंक करा रहे हो तो आपको ये पैसे अलग से देने की जरुरत नहीं बैंक खाते से लिए जाते है।

इसके आलावा SBI सिक्योरिटीज अपने ग्राहकों को छूट देने के लिए एक ऑफर भी दी है जिसमे आपने खाता शुरू करने के बाद ६ महीने के अंदर कोई शेयर ख़रीददते है तो उसका ६५० रुपये तक का ब्रोकरेज आपके बैंक खाते मे कॅश बैक के तौर पर दिया जायेगा।

SBI कस्‍टमर भी Yono से कर सकेंगे LIC IPO में निवेश, जानें- सरल तरीका

SBI कस्‍टमर भी Yono से कर सकेंगे LIC IPO में निवेश, जानें- सरल तरीका

SBI कस्‍टमर भी एलआईसी आईपीओ में कर सकते हैं निवेश (फाइल फोटो)

अबतक का सबसे बड़ा आईपीओ, भारतीय जीवन बीमा निगम (LIC) की ओर से इस सप्‍ताह में खुलने के लिए तैयार है। वहीं लोगों के बीच यह सवाल कॉमन है कि इसमें निवेश कौन और कैसे कर सकता है। जिसे लेकर पहले भी जानकारी दी जा चुकी है कि निवेश करने वाले निवेशकों के पास डीमैट अकाउंट होना जरूरी है।

इसी बीच भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने एक ट्वीट कर अपने ग्राहकों को मेगा आईपीओ के लॉन्च से पहले योनो पर डीमैट और ट्रेडिंग खाते खोलने के लिए कहा है। एसबीआई ने ट्वीट में लिखा कि ”आज ही अपनी निवेश यात्रा शुरू करें!” SBI ने कहा कि अपना डीमैट और ट्रेडिंग अकाउंट योनो पर खोलें, इसके लिए आपसे कोई ओपेनिंग चार्ज नहीं और DP AMC पूरा होने के पहले साल के लिए छूट दी जाएगी।

रेटिंग: 4.87
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 98